एक मेढ़क की कहानी | very short story in hindi with moral

एक मेढ़क की कहानी | Very Short Story In Hindi With Moral

 

अक्सर ऐसा होता जब हम अपने सपनो को पूरा करने के लिए मेहनत करते है तो रुकावट बहुत आता है। आज का ये Short Story In Hindi With Moral भी कुछ ऐसा ही है एक मेढ़क की।

मेढक की भी कहानी कुछ अपने तरह ही है। उसे भी बस सफलता चाहिए था। जो सोचा उसे पूरा होते देखना चाहता था।

ये Kahani थोड़ा Funny Story भी लगे आपको लेकिन ये तय है की आपको कुछ अच्छा और ये दिखेगा की आखिर में मेढ़क जीत कैसे गया और हमें क्या करना चाहिए जब हम फस जाए तब ।

 

Very Short Story In Hindi With Moral

 

आइये तब चलते है मेढ़क की Short Story तरफ।

 

Short Story In Hindi

 

एक समय की बात है, एक मेढ़क ने पहाड़ चढ़ने का सोचा। वो बगल वाले जंगल में जाने लगा क्योकि वह पहाड़ वहाँ से पास में ही था।

मेढ़क वहां जाते ही पहाड़ की चोटी की ओर चढ़ने लगा।  बाकी के पास वाले मेढ़क चिलाने लगे।

ये क्या कर रहे ?

ये असंभव है.. आज तक कोई नहीं चढ़ा पाया …

ये असंभव है … कभी नहीं चढ़ पयोगे

पर मेढ़क चढ़ता गया चढ़ता ही गया , और आखिर में वो पहाड़ की चोटी पर पहुंच ही गया।

सब निचे वाले मेढ़क ये देख रहे थे और कह रहे थे ये हुआ कैसे ?

तब तक वहा मेढ़क का दोस्त आता और कहता की वो चढ़ ही गया चोटी पे।

सब ने उसके दोस्त से कहा आप उसको जानते है ? ये है कौन हमने बहुत मना किया फिर भी चढ़ गया ?

मेढ़क का दोस्त कहा आप लोग उसे रोक रहे थे ?

सब ने कहा हमने बहुत हल्ला किया फिर भी न रुक सका वो।

उसका दोस्त कहा की वो पहाड़ की चोटी पे चढ़ ही पाया है आप सब के मदद से।

सब हका – चका रह जाते है वो कैसे ?

उसका दोस्त कहता है वो तो बहरा है उसे कुछ सुनाई ही नहीं दिया होगा और आप लोगो को देखता होगा तो चिलता देख तो सोचता आप उसका मनोबल बढ़ा रहे है।

 

कुछ ऐसे ही आपको भी ऐसे नकारात्मक इंसान के प्रति बहरे बनने का जरूरत है।

इसे भी पढ़े :

3 Success Mantra In Hindi | अब असफलता का डर नहीं

Short Story In Hindi With Moral Taught A Good Lesson

 

Moral Of Story In Hindi

 

ये| very short story in hindi with moral में आपने देखा होगा किस तरह से मेढ़क अपने लक्ष्य तक पहुंच जाता है।

उसे कितना भी रोकने का कोसिस किया जाता लेकिन उससे वो रुकने के वजाये बढ़ते ही जाता है।

ये Hindi Moral Stories बस आपको ये बताने के लिए है की हमारे दिनचर्या में न जाने कितने लोग कितने अलग – अलग तरह से वय्वहार करते है।

कोई रोकता है, कोई निचा दिखा जाता है, तो  कोई साथ होके भी साथ नहीं होता।

लेकिन इन् सब का आपके लक्ष्य से कोई लेना देना नहीं अगर आपने तय कर लिया है की यही करना है तो बस करना है।

आपके रास्ते अपने आप खुलते जायेंगे।

मेढ़क के तरह आपको भी बस बहरा बनने का जरुरत है जो आपको रोकते है सही काम करने से, आपको आगे बढ़ने से।

ऐसे ही Motivational Story In Hindi, Achi Baatein और ढेर सारे मोटिवेशन के लिए Subscribe कर ले Email डाल कर।

Note : ये short hindi story with moral बस आपको कुछ छोटी सी बात समझाने के लिए।

बाकी हर बार की तरह कोई suggestion Question या Problem , आप शेयर कर सकते।

आपको ये कहानी कैसा लगा Comment जरुरु करे।

शेयर इसे भी दोस्तों के साथ कर सकते आप।

इसे भी पढ़े :

Short Motivational Story In Hindi For Students

New Moral Stories In Hindi | आखिर अब कब करोगे आप ?

धन्यबाद ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *